हितग्राहियों को समय-सीमा में मिले योजनाओं का लाभ-कलेक्टर श्रीमती रानू साहू,योजनाओं के क्रियान्वयन की फील्ड लेवल पर मॉनिटरिंग के अधिकारियों को दिए निर्देश

Ashwani Sahu
3 Min Read
IMG-20230125-WA0027
IMG-20230125-WA0030
IMG-20230125-WA0031
IMG-20230125-WA0028
IMG-20230125-WA0025
IMG-20230125-WA0029
IMG-20230125-WA0024
IMG-20230125-WA0026

हितग्राहियों को समय-सीमा में मिले योजनाओं का लाभ-कलेक्टर श्रीमती रानू साहू

योजनाओं के क्रियान्वयन की फील्ड लेवल पर मॉनिटरिंग के अधिकारियों को दिए निर्देश

रायगढ़ / कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में समय-सीमा की बैठक ली। उन्होंने शासकीय योजनाओं की विभागवार समीक्षा की। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कहा कि हितग्राहियों को योजनाओं का समय-सीमा में लाभ मिले तथा उनकी समस्याओं का निराकरण हो। यह सभी विभागों का दायित्व है। इसके लिए आवश्यक है कि सभी अधिकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की फील्ड लेवल तक मॉनिटरिंग करें और हितग्राहियों से फीडबैक लें। इससे प्रशासकीय स्तर पर योजना के संचालन में प्रभावशीलता बढ़ेगी और अधिक से अधिक हितग्राही लाभान्वित होंगे।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट निर्माण के साथ पशुपालकों और समूहों के भुगतान की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि हितग्राहियों को नियमित रूप से भुगतान हो यह सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्रीमती साहू ने स्वास्थ्य सेवाओं के अंतर्गत हाट-बाजार क्लीनिक के संचालन की जानकारी ली तथा वहां मरीजों को उपलब्ध कराए जा रहे जांच व दवा के बारे में भी पूछा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सुदृढ़ीकरण की दृष्टि से हाट-बाजार क्लीनिक की महत्वपूर्ण भूमिका है। अत: निर्धारित शेड्यूल के अनुसार हाट-बाजार क्लीनिक लगाएं।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने जिले में चल रहे एनआरसी तथा उसमें उपचाररत बच्चों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि एनआरसी कुपोषित बच्चों में पोषण स्तर सुधारने के लिए चलायी जा रही है। अत: एनआरसी केन्द्रों में बेड नियमित रूप से भरे हो तथा उन्हें निर्धारित मेनू अनुसार डाइट दिया जाए। जिससे बच्चे जल्द स्वस्थ हो। कलेक्टर श्रीमती साहू ने राजस्व प्रकरणों के निराकरण पर चर्चा करते हुए कहा कि कार्यालयों में प्रकरण लंबित न रहे। उन्होंने आरबीसी 6-4 के प्रकरणों का जल्द निराकरण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। स्वामी आत्मानंद स्कूलों में संसाधनों तथा मैन पॉवर की व्यवस्था के संबंध में भी उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी से जानकारी ली। कलेक्टर श्रीमती साहू ने वन अधिकार पट्टा वितरण की भी समीक्षा करते हुए कहा कि पट्टा प्राप्त हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से आजीविका संवर्धन की गतिविधियों से जोड़े। जिससे उनकी आय में वृद्धि हो। कलेक्टर श्रीमती साहू ने घरेलू कनेक्शन विस्तार कार्य के प्रगति की भी बैठक में समीक्षा की। उन्होंने जल जीवन मिशन के साथ सोलर योजनाओं के जरिए नल कनेक्शन तेजी से बढ़ाने की बात कही। कलेक्टर श्रीमती साहू ने जाति प्रमाण पत्र निर्माण की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी से ली। इस मौके पर कलेक्टर श्रीमती साहू ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के जिले में प्रस्तावित दौरे के संबंध में तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि उन्हें सौंपे गये दायित्व अनुसार सारी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली जाए।

Share this Article

You cannot copy content of this page